कोरोना 3 गुना अधिक घातक है डेंगू और जीका से

कोरोना पर शोध कर रहे वैज्ञानिकों का कहना है कि पूरी दुनिया में महामारी का रूप ले चुका कोरोना वायरस डेंगू और जीका से 3 गुना अधिक घातक है।

ये वाइरस जब तक शरीर से बाहर रहता है तब तक ये निष्क्रिय रहता है जैसे ही ये शरीर में घुसता है ये अपने जैसे लाखों वायरस बनाने लग जाता है। वायरस हमारी कोशिकाओं को हाईजेक कर लेता है। कोरोना का वायरस डेंगू और जीका से 3 गुना अधिक खतरनाक है। जब तक वायरस के लक्षण दिखने शुरू होते है तब तक के समय को inqvation कहते है। इस समय तक वायरस हमारे शरीर में बहुत अच्छी तरह से जम जाता है और फिर हमको बीमार कर खुद को दूसरे शरीरों तक पहुंचाने के लिए खांसी और जुकाम की सहायता से हमारे शरीर से बाहर निकलने लगता है और इस तरह से ये सभी को अपनी चपेट में ले लेता है।

No comments:

Post a comment