अभी लड़ाई लंबी है कोरोना से

कोरोना वायरस पर प्रभावी नियंत्रण के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 'जनता कर्फ्र्यू’ की अपील का जबर्दस्त असर देखा गया. वहीं शाम पांच बजे लोगों ने अपने घरों की बाल्कनी और दरवाजे पर खड़े होकर थाली, शंख और ताली बजाकर संकट की इस घड़ी में राष्ट्रसेवा कर रहे लोगों के प्रति सम्मान जाहिर किया।

आपातकाल की स्थिति
नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोविड-19 के दौरान दिन रात काम करने वालों के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि एक लंबी लड़ाई में विजय की शुरुआत का भी नाद है. आइए, इसी संकल्प के साथ, इसी संयम के साथ एक लंबी लड़ाई के लिए अपने आप को बंधनों (सोशल डिस्टेंसिंग) में बांध लें.

पीएम मोदी ने कहा- लंबी लड़ाई में विजय की शुरुआत का भी नाद
मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘ ये धन्यवाद का नाद है, लेकिन साथ ही एक लंबी लड़ाई में विजय की शुरुआत का भी नाद है. आइए, इसी संकल्प के साथ, इसी संयम के साथ एक लंबी लड़ाई के लिए अपने आप को बंधनों (सोशल डिस्टेंसिंग) में बांध लें.’’

पीएम मोदी की देशवासियों से अपील- जिस शहर में हैं, कुछ दिन वहीं रहें, कोरोना को फैलने से रोकें

आज सुबह जनता कर्फ्यू शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से क्या कहा?

Janta Curfew के दौरान कैसे हैं शाहीन बाग के हालात, क्या अभी भी जारी है प्रदर्शन?

पीएम मोदी ने फेसबुक पर वीडियो साझा कर बताया- कैसे फैलता है कोरोना- लोगों से बेहद सतर्क रहने की अपील

Coronavirus: भारत में 315 हुई संक्रमित मरीजों की संख्या, जानें- किस राज्य में है कितने मामले


प्रधानमंत्री ने ट्वीट में दी ये नसीहत
उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘आज का # जनता कर्फ्यू भले ही रात 9 बजे खत्म हो जाएगा, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम सेलिब्रेशन शुरू कर दें. इसको सफलता न मानें. यह एक लम्बी लड़ाई की शुरुआत है. आज देशवासियों ने बता दिया कि हम सक्षम हैं, निर्णय कर लें तो बड़ी से बड़ी चुनौती को एक होकर हरा सकते हैं.’’

उन्होंने लोगों से अपील करते हुए अपने ट्वीट में कहा, ‘‘केंद्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा जारी किए जा रहे निर्देशों का जरूर पालन करें. जिन जिलों और राज्यों में लॉकडाउन की घोषणा हुई है, वहां घरों से बिल्कुल बाहर न निकलें. इसके अलावा बाकी हिस्सों में भी जब तक बहुत जरूरी न हो, तब तक घरों से बाहर न निकलें.’’

लोगों ने बजाई तासी-थाली- पीएम बोले- देशवासियों का बहुत-बहुत आभार
प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस की लड़ाई का नेतृत्व करने वाले प्रत्येक व्यक्ति को देश ने एक मन होकर धन्यवाद अर्पित किया. देशवासियों का बहुत-बहुत आभार.इससे पहले प्रधानमंत्री ने लोगों को आज रविवार की शाम को 5 बजे पांच मिनट तक अपनी खिड़की, बालकनी से ताली, घंटी-थाली बजाने की याद दिलायी थी.

मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘ याद रखें कि शाम को 5 बजे पांच मिनट तक... अपनी खिड़की, बालकनी, छत पर आएं और कोविड-19 से देश को मुक्त बनाने के लिये दिन रात काम करने वालों के प्रति आभार प्रकट करें .’’ प्रधानमंत्री ने रविवार को ‘जनता कर्फ्यू’ में भागीदारी के लिये प्रोत्साहित करने वालों के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि जनता कर्फ्यू को लेकर हर कोई अपनी-अपनी तरह से योगदान देने में जुटा है, लोगों का समर्थन जोरदार है और लोगों की सतर्कता एवं सावधानी से लाखों लोगों को मदद मिल सकती है.

मोदी ने ट्विटर पर गीतकार प्रसून जोशी, गायिका मालिनी अवस्थी, लोक गायक प्रीतम भरतवाण, आर्थिक क्षेत्र से जुड़े विशेषज्ञ मोहनदास पई एक्टर आमिर खान, दीपिका पादुकोण सहित कुछ लोगों को टैग किया और उनके योगदान की सराहना की.

‘कोविड-19’ से लड़ने का संकल्प हमारे मन-मस्तिष्‍क में पूरी तरह से भरा हुआ- PM मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि हममें से प्रत्येक कोविड-19 के खिलाफ इस लड़ाई में एक अत्‍यंत मूल्यवान सैनिक है और इस बारे में सतर्क एवं सजग रहने से लाखों अन्य लोगों की भी बहुमूल्‍य मदद की जा सकती है.

उन्होंने यह भी कहा कि सड़कें बेशक सूनी-सूनी नजर आ रही हैं, लेकिन ‘कोविड-19’ से लड़ने का संकल्प हमारे मन-मस्तिष्‍क में पूरी तरह से भरा हुआ है. . प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘जनता कर्फ्यू’ में परिवार के साथ अच्छा समय बितायें, टेलीविजन और कुछ अच्छा भोजन लें. आप सभी कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में मूल्यवान सैनिक हैं. आपके सतर्क और सावधान रहने से लाखों लोगों के जीवन को मदद मिल सकती है.’

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री ने बृहस्पतिवार को राष्ट्र के नाम संदेश में लोगों से घर-घर दूध,अखबार, राशन पहुंचाने वालों, पुलिसकर्मी, स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी और मीडियाकर्मियों के प्रति आभार जताने की अपील की थी. उन्‍होंने कहा था कि ऐसे लोगों का आभार जताने के लिए 22 मार्च की

No comments:

Post a comment